vedic press omniscient's wisdom

नाटक

नाटक घरों में अश्लीलता परोसने का माध्यम कैसे बना ?

नाटक मनोरंजन नहीं बल्कि धर्म परिवर्तन और अश्लीलता फैलाने का मध्यम नाटकों में प्राय: ऐतिहासिक आश्रय को लेकर गद्य-पद्य रूप में संवादात्मक तथा जन मनोरंजन के लिए अभिनय प्रदर्शनार्थ रचना की गई हैं । कथानक...

जीसस

जीसस (God) का चौकाने वाला सम्पूर्ण लेखा-जोखा

जीसस नाम का कोई व्यक्ति नहीं था | जीसस सारा ईसाई धर्म एक व्यक्ति पर आधारित है । वह व्यक्ति कपोलकल्पित सिद्ध हिने पर ईसाई धर्म सारा निराधार बनता है । इस पर कुछ नासमझ...

स्त्री शिक्षा

स्त्री शिक्षा के मूल तत्व और इनकी आवश्यकता क्यों ?

सामाजिक दृष्टिकोण से स्त्री शिक्षा स्त्री शिक्षा :- हमें यह स्वीकार करना होगा कि विज्ञान और समाज चाहे जितने उन्नत हो जाएं और सामाजिक दृष्टि से स्त्रियों और पुरुषों के व्यवहार क्षेत्र तथा कार्य क्षेत्र...

परोपकारिणी सभा

परोपकारिणी सभा का गठन किसने और क्यों किया ?

 ऋषि दयानन्द सरस्वती ने सभा का गठन क्यों व कैसे किया ? परोपकारिणी सभा :- ऋषि दयानन्द की दूरदर्शिनी दृष्टि अब समीप आते हुए अंत को देख रही थी । मेरठ से चलते हुए ऋषि...

काव्य'

काव्य क्या है व इनमें किसका वर्णन किया गया है ?

काव्यों में क्या महत्वपूर्ण हैं ? काव्य संस्कृत के महाकाव्य प्रसिद्ध है। संस्कृत काव्यों जैसी रचना अन्य भाषाओं में नहीं पाई जाती । संस्कृत जैसा लालित्य ओर प्रसाद गुण अन्य भाषाओं में दिखलाई नहीं देता...

वेद के अंग

वेद के अंग कौन-कौन से है जो उन्हें समझने में सरल बनाते है ?

वेदों के अंग कौन से है ? वेदों के छ: अंग है । शिक्षा, कल्प, व्याकरण, निरुक्त, ज्योतिष और छन्द: । शिक्षा :- इसमें पाणिनि मुनि कृत पाणिनीय शिक्षा आदि ग्रन्थ है । सत्संग से...

उत्तम पुरुष

उत्तम पुरुषों का संग क्यों जरुरी माना गया हैं ?

वेदानुसार उत्तम पुरुष कौन है ? उत्तम पुरुष कौन है किन मनुष्यों की संगति वा शिक्षा से मनुष्य को लाभ उठाना चाहिए उसका वर्णन- सृष्टि के आरम्भ में ज्ञान और भाषा की उत्पत्ति क्यों और...

उपांग

उपांग क्या और कितने है यह विद्या का प्रमाण कैसे है ?

उपांग क्या है ? उपांग संख्या में कुल छ: है । उपांग को दर्शन और शास्त्र भी कहते है । उपांग समस्त सृष्टि विद्या का प्रमाण और तर्क के आधार पर सूत्र रूप में वर्णन...

गुरु जी

गुरु जी और चेला साथ रहिये और साथ खाइए कहानी’

मिलकर रहिये बाँट कर खाइए गुरु जी और चेला एक चेला था । उसने अपने गुरु से पूछा-“महाराज! संसार में रहने का क्या ढंग है ?” गुरु ने कहा-“अच्छा प्रश्न किया है तूने । एक-दो...

स्मृति

स्मृति क्या है व मनुस्मृति कौन-से संविधान पर आधारित है ?

स्मृतियों की आवश्यकता क्यों स्मृति :- सृष्टि के आरंभ में ही मनवोत्पत्ति के पशत परमकारुणिक ऋषियों ने व्यक्ति की उन्नति, रहन-सहन, खान, पान, पारस्परिक आदान-प्रदान, और रक्षा आदि कार्यों की व्यवस्था के लिए नियम बनाये ...

सत्संग

सत्संग से मनुष्य जीवन कैसे बदल सकता है ?

सत्संग का प्रभाव सत्संग पर एक सत्य घटना थोड़ी देर की अच्छी संगति भी क्या परिणाम उत्पन्न करती है, यह अमर शाहिद ‘आर्य मुसाफिर’ पण्डित लेखराम जी के जीवन से ज्ञात होता है । आर्य...