Tagged: chanakya niti shlok

chanakya neeti

Chanakya Neeti Shloka(चाणक्य नीति श्लोक) भाग-6, 101 से 120

Chanakya Neeti (चाणक्य नीति ) :- हिंदी अनुवाद Chanakya Neeti अनित्यानि शरीराणि विभवो नैव शाश्वत: । नित्यं सन्निहितो मृत्यु: कर्त्तव्यो धर्मसंग्रह: ।। यह शरीर नाशवान है, धन संपत्ति भी चलायमान हैं, मृत्यु सैदव निकट रहती...

chanakya niti sloka

Chanakya Niti Sloka(चाणक्य नीति श्लोक) भाग-4; 61 से 80

Chanakya Niti Sloka  (चाणक्य नीति श्लोक):- हिंदी व्याख्या Chanakya Niti Sloka 61.  शुचिर्भूमिगतं तोयं शुद्धा नारी पतिव्रता । शुचि: क्षेमकरो राजा संतोषि ब्राह्मण: शुचि: ।। पृथ्वी के भीतर से निकलने वाला पानी पवित्र होता है।...

चाणक्य नीति श्लोक

चाणक्य नीति श्लोक(Chanakya Niti ) भाग-3; हिंदी व्याख्या 41 से 60

चाणक्य नीति श्लोक (Chanakya Niti Shlok):- हिन्दी व्याख्या चाणक्य नीति श्लोक – 41.     बाहुवीर्यं बलं राज्ञो बब्राह्मणो ब्रह्मविद् बली । रुपयौवनमाधुर्यं स्त्रीणां बलमुत्तमम् ।। राजा की शक्ति उसकी भुजाओं में, विद्वान का बल उसके ज्ञान...

चाणक्य नीति

Chanakya Niti, चाणक्य नीति: भाग-2; हिंदी व्याख्या 21 से 40 श्लोक

चाणक्य नीति (chanakya niti):   (हिंदी व्याख्या सहित) 21.    जनिता चोपनेता च यस्तु विद्यां प्रयच्छति | अन्नदाता भयत्राता पञ्चैते पितर: स्मृता: || जन्म देने वाला पिता, यज्ञोपवित कराने वाला गुरु, विद्या देने वाला अध्यापक, अन्न...