Category: Hindi Blogs

हिंदी बनी हिन्दुस्तानी

हिंदी भाषा कैसे हिन्दुस्तानी भाषा बनी सम्पूर्ण इतिहास

हिंदी बनी हिन्दुस्तानी (कैसे हिंदी भाषा को हिन्दुस्तानी भाषा का दर्जा मिला) हिंदी कैसे बनी हिन्दुस्तानी स्वामी दयानंद सरस्वती, वीर सावरकर, बंकिमचंद्र और तिलक से लेकर गांधी जी, राजा जी जैसे हमारे महान राष्ट्रोनन्यकों ने हिंदी को एक ऐसी समान...

खांसी

खासी के कारण, प्रकार और खासी का रामबाण इलाज

खासी के कारण, प्रकार और उपाय खासी एक भयानक रोग है। अगर खासी का समय रहते इलाज नही हो पाता तो यह भयंकर रोग बन जाता है। बहुत कड़े परहेज करने पर पुरानी खासी में आराम मिलता है। खाँसी एक...

बच्चों का पालन-पोषण कैसे करें

बच्चों का पालन-पोषण कैसे करें ताकि बच्चे निर्भीक/साहसी और वीर बने ??

बच्चों को पालन-पोषण कैसे करें ताकि बच्चे  शूरवीर बने   बच्चों का पालन-पोषण करें इस संस्कार और मर्यादा वाली परिपाटी हम भूल चुके है। आज हम अपने सभी संस्कारो को भूल चुके है। सिर्फ अंतिम संस्कार को छोड़कर। वह माता...

फांसी

फांसी का जन्म और विकास कब और कैसे हुआ ?

फांसी का सम्पूर्ण इतिहास फांसी देने के प्रथा कब से चली या कहना बहुत कठिन है। क्योंकि हर जगह जहाँ भी फांसी को हथियार बनाया गया वहां समय अलग-अलग था। फांसी का अर्थ है कि मनुष्य के प्राणों का किसी...

नवजात शिशु

नवजात शिशु की मालिश कौन से तेल से करें ?

           गाय के घी से बना सर्वोतम तेल नवजात शिशु के लिए अत्यंत लाभदायक नवजात शिशु  की मालिश क्यों जरूरी है व किस तेल से करनी चाहिए ?? आज के परिवेश में बच्चों के शारीरिक व...

मन

मन क्या है ? क्या मन आत्मा का साधन है ?

मन मन आत्मा का साधन है। इसके द्वारा ही आत्मा की इच्छित क्रियाएं होती है। आत्मा का मन से, मन का इन्द्रियो से ओर इन्द्रियो का विषयो से (बाहरी संसार से) सम्पर्क होने पर ही आत्मा को ज्ञान तथा उसकी...

pathri ka raambaan upay

पथरी का इलाज Pathri Ka Ilaaj

पथरी का इलाज    हमारे दिन की शुरुआत खाने से शुरू होती है और खाने पर ही ख़त्म लेकिन जो खाना हम खाते है उसमे से कुछ खाना पूरी तरह पच्च नहीं पाता जो इक्कठा होकर पथरी बन जाता है।...

google story

Religious Story अध्यात्मिक कहानी Story Writing

खाली मन शैतान का घर लोक में प्रसिद्द कहावत बिलकुल सही है कि “खाली मन शैतान का घर होता है “ अर्थात निठल्ले बैठे रहने वाले बालकों या बड़ों के मन में दुर्विचार ही आते है । और दुर्विचार से...