बच्चों की देखभाल कैसे करे ताकि शारीरिक और मानसिक विकास न रुके

बच्चो की देखभाल कैसे करे ताकि वे शारीरिक और मानसिक रोगी न बने

बच्चों की देखभाल कैसे करे

जो बच्चा जितना अधिक स्वस्थ होता है वह उतना ही सुन्दर व आकर्षक लगता है और उसकी लम्बाई भी उम्र के साथ बढ़ती है तो बच्चे के सम्पूर्ण विकास के लिया गर्भधारण करते ही अपने खान-पान में विशेष बदलाव किजिएं जैसे :-

गर्भधारण के समय क्या न करें :-

  1. तला भुना खाने से बचें ।
  2. मिर्च और हर प्रकार के मसालों से दूरी बना लें ।
  3. बाज़ार की मिठाई का सेवन न करें ।
  4. चाय और काफी का सेवन किसी भी रूप में न करें ।
  5. गर्म गोलियों के सेवन से बचे ।
  6. मौसम के विपरीत न खाएं और ज्यादा खाना खाने से बचे ।आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे ?

नवजात शिशु की मालिश कौन से तेल से करें ?

गर्भधारण के समय क्या करें :-

  1. प्रतिदन हवन करें ।
  2. ताजा और हरी सब्जी का सेवन करें ।
  3. उचित मात्रा में दूध का सेवन करें । और कभी-कभी हल्दी को दूध में मिलाकर लें ।
  4. मौसम के अनुकूल ताजा फलों का सेवन करें ।
  5. आयुर्वेदिक गोलियों का सेवन करें ।
  6. मौसम के अनुकूल वस्त्र धारण करें ।
  7. मौसम अनुसार हल्का भोजन जैसे:- दलिया, खिचड़ी, हल्वा, खीर आदि का सेवन करें ।आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे ?

जन्म उपरांत बच्चे को माँ का दूध पिलाए। 6 महीने पश्चात बच्चे का अन्नप्राशन संस्कार करवाएं । फिर उसे भात में घृत व मधु (शहद) मिलकर प्रथम भोजन कराएँ ।

जन्म उपरांत बच्चे को क्या न दें  :-

बच्चों की देखभाल कैसे करे

  1. चबाने वाली चीजें देने से बचे ।
  2. बाहरी दूध का सेवन न कराएँ ।
  3. ज्यादा पानी न पिलाएं ।
  4. मिर्च का सेवन कराने से बचे ।
  5. गर्म गोलियां न खिलाएं ।
  6. गिले कपड़े न पहनाएं ।आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे ?

मोटापा घटाने के लिए क्या करें ?

जन्म के उपरांत बच्चे को क्या दें  :-बच्चों की देखभाल कैसे करे

  1. छ महीने तक माँ के दूध का सेवन कराएँ ।
  2. रसयुक्त पदार्थ खिलाएं । वेदों के अनुसार बच्चे के लिए सबसे चिकना और रसयुक्त पदार्थ उचित होता है । घी सबसे चिकना और रसयुक्त पदार्थ है इसका सेवन कराएँ ।
  3. नरम पदार्थ खिलाएं ।
  4. बच्चे की मौसम के अनुसार उचित देखभाल करें।
  5. आयुर्वेदिक दवा का प्रयोग करें ।
  6. थोड़ा-थोड़ा जूस दे सकते है ।आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे ?

शहद से होने वाले आश्चर्यजनक लाभ कौन से है ?

अपने बच्चों को इनसे जरुर बचाएं :-

  1. सिरोलेक्स बच्चे को भूल कर भी न दें ।
  2. तली-भूनी चीजों के सेवन से बचाएं ।
  3. मिर्च-नमक से बच्चों को दूर रखें ।
  4. बाजारी मिठाई के सेवन से बच्चों को दूर रखे ।
  5. चाय-काफी आदि का सेवन न करने दें ।
  6. टी.वी., रिमोट गेम, मोबाइल से बच्चों को दूर रखे । आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे?

मन्दाग्नि का जड़ से सफाया कैसे करें ?

बच्चों के भविष्य के लिए निम्न बातों पर ध्यान दें :-

  1. गाय के दूध का सेवन कराएँ ।
  2. घी का सेवन उचित मात्रा में करें ।
  3. हलवा, खीर, चूरमा घर की बनी हुई मिठाई ही खिलाएं ।
  4. बुखार आदि में हर्बल चाय/आयुर्वेदिक दवाइयों का सेवन कराएँ ।
  5. व्यायाम जरुर कराएँ ।
  6. हवन आदि पवित्र कार्यों में बच्चों को सम्मलित अवश्य करें ।
  7. उचित मात्रा में फलों का सेवन कराएँ ।
  8. बच्चों का मिट्टी के प्रति लागाव बनाये । आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे ?

जो माता-पिता अपने बच्चों के हितैषी है वह उपरोक्त बातों का ध्यान रखे । ताकि बच्चों के शारीरक और मानसिक विकास अच्छी प्रकार से हो । अगर बच्चा शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होता है तो उसके बीमार होने के 99% चांस कम हो जाते है ।  आप पढ़ रहे है बच्चों की देखभाल कैसे करे ? खांसी के रामबाण इलाज के लिए चिकित्सा कैसे करें 

 

  • मीनू आर्या

Follow :- Thanks Bharat YouTube Channel

You may also like...