मधुमेह (शुगर) के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय कैसे करें ?

मधुमेह/डायबिटीज/शुगर रोग के लक्षण और घरेलू उपचार विधि

मधुमेह :-

sugare

शुगर/मधुमेह एक बहुत पुरानी बीमारी हैं । जिसके कारण मनुष्य के शरीर में इंसुलिन का उत्पादन कम मात्र में होता हैं । यह बीमारी आजीवन मनुष्य को रहती हैं । इसमें इंसुलिन के बिलकुल  खत्म होने के आसार भी हो जाते हैं ।  मधुमेह चयापचय सम्बन्धी बीमारियों का समूह हैं । जिसमें लंबे समय तक उच्च रक्त शर्करा का स्तर होता हैं । मधुमेह को डायबिटीज मेलेटस/शुगर/चीनी रोग आदि नामों से भी पुकारा जाता हैं ।

डायबिटीज  के प्रकार :-

मधुमेह को दो भागों में बाँटा जाता हैं ।

  1. इंसुलिन न बनना ।    आजीवन सुखी रहने के लिए दिनचर्या कैसे बनायें ?
  2. इंसुलिन का कम होना या इस्तेमाल में ना होना ।

1. इंसुलिन न बनना :-

इसमें शरीर के श्वेत कौशिकाएं अग्नाशय की इंसुलिन बनाने वाली कोशिकाओं को नष्ट कर देती हैं ।

इसमें रोगियों को इंजेक्शन के माध्यम से अपने रक्त में इंसुलिन को तर करना होता हैं ।

2. इंसुलिन का कम होना या इस्तेमाल में ना होना :-

इसमें शरीर में उत्पादित इंसुलिन का सही उपयोग नहीं हो पता हैं ।

शरीर में इंसुलिन की ज्यादा मात्रा के कारण अग्नाशय इंसुलिन नहीं बना पता हैं ।

इसमें रोगी  मौखिक दवाइयों और उचित जीवन शैली पर निर्भर रहते हैं ।

मधुमेह के कारण :-

  1. अग्नाशय पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं करता।  मन्दाग्नि होने पर क्या करें और क्या न करें ?
  2. शरीर की कौशिकाएँ इंसुलिन को ठीक से जवाब नहीं करती हैं ।

शुगर  के लक्षण :-

  1. बार-बार पेशाब का आना ।
  2. कोई भी चोट या जख्म देरी से भरना ।
  3. बार-बार फोड़े-फुंसियाँ निकलना ।
  4. चक्कर आना ।
  5. चिड़चिड़ापन दिखाना ।  पुरानी से पुरानी खाज-खुजली से कैसे राहत पाएं ?
  6. गुप्तांगों पर खुजली वाले जख्म होना।
  7. आँखों की रौशनी का कम होना ।
  8. ज्यादा मात्र में प्यास लगना ।

 

मधुमेह से बचने के उपाय :-

  1. सुबह टमाटर, संतरा और जामुन का नाश्ता करें, इनकी 300 ग्राम मात्रा प्रयाप्त है ।
  2. नियमित तीन महीने तक करेले की सब्जी घी में बनाकर खान से मधुमेह में निश्चित रूप से लाभ होगा ।
  3. रात को मेथी के दाने पानी में भिगो कर रख दीजिए, सुबह उठकर दातुन कर वह पानी पीकर मेथी के दाने धीरे-धीरे चबा लीजिये, मधुमेह धीरे-धीरे ठीक होता चला जायेगा ।  बवासीर का सम्पूर्ण घरेलू इलाज कैसे करें ?
  4. रात को काली किसमिस भिगोकर रखीए, सुबह उठने के साथ उसका जल छान कर पी लिजिए ।
  5. आवंले के चूर्ण को भिगोकर उसे कुछ देर रहने दीजिए, फिर उसे छान कर उसमे निम्बू का रस निचोड़कर सुबह उठते ही पी लें।
  6. तमाल पत्र(तेजपत्ता) को कूटकर कपडे से छान कर चूर्ण बना लें, सुबह उठते ही 5 ग्राम चूर्ण कि मात्रा गुनगुने पानी के साथ लें, दस दिनों के  भीतर ही भीतर लाभ मिलेगा।
  7. आवला, हल्दी और मेथी-तीनों को समभाग मात्रा में लेकर कूट-पीसकर चूर्ण बना लें, इस चूर्ण को यदि मधुमेह का रोगी सुबह, दोपहर और शाम को पानी के साथ एक चम्मच भर सवेन करे, तो वह दो महीने के भीतर-भीतर मधुमेह के रोग से मुक्त हो सकता है ।
  8. मधुमेह के शिकायत होने पर आम और जामुन का रस बराबर मात्रा में मिलाकर दिन में तीन बार लगातार एक महीने तक सवेन करें।
  9. जामुन कि गुठली और हरिद्रा कि बराबर मात्रा लेकर कूट-पिस कर चूर्ण बना कर शहद के साथ चाटें अथवा आधा चम्मच छाछ के साथ पिएं, मधुमेह कितना ही भयंकर क्यों न हो ठीक हो जायेगा । आँखों को लंबे समय तक निरोग रखने के लिए क्या करें ?
  10. डायबिटीज के इलाज के लिए बेलपत्र बड़े उपयोगी है, यह सिद्ध प्रयोग है कि बेलपत्र और निम् के पत्ते 11-12 नग लेकर उन्हें तुलसी के करीब 5-6 पत्तों, 5 नग मुन्नका और 5 नग काली मिर्च के साथ पिस कर गोलियां बना लें एक-एक गोलू प्रतिदिन प्रात: जल के साथ लेने से भयंकर मधुमेह तोग का केवल तीन-चार महीनों में निवारण हो जाता है, लेकिन साथ में खान-पान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है ।
  11. जामुन के कोमल हरे पत्ते पीसकर नियमित 25 दिन तक प्रात: पानी के साथ पीने से पेशाब में शक्कर जाना रुक जाता है ।

 

शुगर में केला फायदेमंद  

 

  1. गले हुए केले के छिलके उतारकर उन्हें हाथों से मसल कर लुगदी बना लें। फिर उसमे आधा भाग चावल की भूसी मिलकर 2-3 दिन गरम स्थान पर रखे छोड़ें चौथे दिन किसी पात्र में सबको रखकर पात्र को थोडा टेढ़ा करके थोड़ी देर तक रहने दें।  इसी रस का सेवन करें।  कान की सफाई के लिए क्या करें ?
  2. अक्सर मधुमेह के रोगी केले का उपयोग करने से घबराते हैं। पर इस तथ्य की जानकारी बहुत काम लोगों को है कि केले के रस का सेवन करने से मधुमेह कि बीमारी में अत्यधिक लाभ होता है ।

 

  • वैदिक धर्मी

Follow:- Thanks Bharat On YouTube Channel

You may also like...