Author: vedicpress

namaste

नमस्ते namaste

नमस्ते “नमस्ते” शब्द संस्कृत भाषा का है। इसमें दो पद हैं – नम:+ते । इसका अर्थ है कि ‘आपका मान करता हूँ।’ संस्कृत व्याकरण के नियमानुसार “नम:” पद अव्यय (विकाररहित) है। इसके रूप में कोई विकार=परिवर्तन नहीं होता, लिङ्ग और...

The basics for healthy living in hindi

40 दिनचर्या में उपयोगी बातें Useful things in routine

40 जीवनोपयोगी बातें * सूर्योदय से पूर्व उठने वालों का बल, तेज व आयु बढ़ते है। * प्रात: जल्दी उठकर ईश्वर का स्मरण करना चाहिए। * निश्चित समय पर शौच, दातुन, भ्रमण, व्यायाम, स्नान करना चाहिए। * दिन के प्रारम्भ...

4 divine attributes of God

4 divine attributes of God

God is infinite, almighty, omnipresent and omniscient When we say that God is infinite, it absolutely means that he is not limited within the temporal and spatial conditions. His infinitude means that there is no distinction of time for Him....

vedic religion

Vedic Religion

Vedic Religion A true religion has essentially two ends in its fold. These two ends are the emancipation from the worldly or material bondage and the realisation of divine spirit. The religion of the Vedas, therefore, bears two fundamental sides....

what is dharma

what is dharma-धर्म क्या है ?

 धर्म (Dharma) what is dharma :- किसी भी वस्तु के स्वाभाविक गुणों को उसका धर्म कहते है जैसे अग्नि का धर्म उसकी गर्मी और तेज है। गर्मी और तेज के बिना अग्नि की कोई सत्ता नहीं। अत: मनुष्य का स्वाभाविक...

five great duties of arya's

पंच महायज्ञ five great duties

पंच महायज्ञ five great duties स्वामी दयानन्द जी वेदों के आधार पर कहा कि प्रत्येक श्रेष्ठ कर्म यज्ञ है। उन्होने प्रत्येक मनुष्य को प्रतिदिन अपने जीवन में पाँच महायज्ञ जरूर करने चाहिए। (1) ब्रह्मयज्ञ :- ब्रह्मयज्ञ संध्या को कहते है।...

आर्य

आर्य कौन है ? क्या इन्होने भारत पर कब्जा किया ?

आर्य – एक खोजपूर्ण लेख आर्य कौन है ? क्या इन्होने भारत पर कब्जा किया ? महर्षि दयानन्द सरस्वती जी ने कहा है – जो श्रेष्ठ स्वभाव, धर्मात्मा, परोपकारी, सत्य-विद्या आदि गुणयुक्त और आर्यावर्त (aryavart) देश में सब दिन से रहने वाले...

human brain - the think tank

Human Brain Science

Mastiska – the Brain Science in the Vedas Murdhanamasya sansiyva atharva hridayancha yat. Mastiskadurdhah prairayat pavamano adhi shirshatah. – Atharva . 10.2.26. Translation : Pavamanah atharva, the perfect God sewing the head and the heart of man rising above the...

Decadence of Vedic Dharma

Decadence of Vedic Dharma

Decadence of Vedic Dharma From the time of Ikshvaku to that of Pandu Vedic Dharm guided the lives and activities of the people of India. There was peace, plenty and contentment everywhere. King Ashwapati proclaimed before the learned Brahamans who...

ancient indian waterships in hindi

भारत सारे विश्व को नौकाएँ बनाकर देता था

भारत सारे विश्व को नौकाएँ बनाकर देता था उस विश्वव्यापी वैदिक संस्कृति की प्राचीन जड़ भारत में होने से वह आज केवल भारत में ही कुछ-कुछ शेष रह गयी है। जब वैदिक संस्कृति सारे विश्व में फैली थी तब सातों...