Category: Religious/History

उधम सिंह

उधम सिंह का संघर्षमयी जीवन और क्रांतिकारी परिचय

उधम सिंह एक क्रांतिकारी उधम सिंह जीवन परिचय :- महान क्रांतिकारी उधम सिंह का जन्म 26 दिसंबर 1899 को पंजाब की पटियाला रियासत के सुनाम नामक कस्बे में कम्बोज वंश में हुआ । उनमे पिता राहलसिंह रेलवे में गेटमैन थे।...

अशफाक़ उल्ला खां

कट्टर मुसलमान अशफाक़ उल्ला खां एक कट्टर क्रांतिकारी कैसे बना

महान क्रांतिकारी अशफाक़ उल्ला खां का आदर्श जीवन अशफाक़ उल्ला खां का जन्म 22 अक्टूबर 19,00 में उत्तरप्रदेश के शाहजहांपुर स्थित  शाहिदपुर में हुआ |उनके पिता मोहम्मद शफीक अल्ला खान था और उनकी माता का नाम मजहूरून्निशां बेगम था। उनके...

आर्य समाज

आर्य समाज से विश्व गुरु आर्यावर्त्त की ओर अग्रसर कैसे ?

आर्य समाज के बारे में भिन्न-भिन्न धारणाएं आर्यसमाज के विषय में आज लोगों में भिन्न-भिन्न प्रकार की भ्रान्तिया है। कुछ लोगों का मानना है की आर्यसमाज नास्तिक संगठन है जो ईश्वर को नहीं मानते । मूर्ति-पूजा  के विरुद्ध है ।  आर्य समाज...

मोक्ष

मोक्ष प्राप्त करने का सबसे सरल और संभव तरीका क्या है ?

मोक्ष प्राप्ति  क्या है इसे कैसे प्राप्त करें स्वभाव से अल्पज्ञ जीवात्मा अविद्यावश प्रकृतिपाश अर्थात जन्म और मृत्यु के चक्र में फँसता है और कर्मानुसार विभिन्न योनियों  (शरीरों ) को धारण करता है। ईश्वर की व्यवस्था में बंधा हुआ जीवन...

सृष्टि

सृष्टि कब बनी तथ्य देखकर चौंक जायेंगे आप

सृष्टि उत्पत्ति से अब एक-एक दिन और काल  का पूर्ण निचोड़ मानव सृष्टि के साथ ही ईश्वर ने चार ऋषियों को वेद का ज्ञान दिया और तभी से यह संवत चला। चूँकि आर्य लोग आदि मानव संसार के आदि आर्य...

चापेकर बंधु

चापेकर बंधु (तीन सगे भाई ) जिन्होंने अंग्रेजों से लोहा मनवाया

तीन सगे भाई चापेकर बंधु का साहस चापेकर बंधु ‘दामोदर हरी चापेकर, बालकृष्ण हरी चापेकर, तथा वासुदेव हरी चापेकर’ तीनों भाइयों को कहा जाता था। चापेकर बंधु तिलक जी को गुरुवत सम्मान देते थे। चापेकर बंधु महाराष्ट्र के पुणे के...

फांसी

फांसी का जन्म और विकास कब और कैसे हुआ ?

फांसी का सम्पूर्ण इतिहास फांसी देने के प्रथा कब से चली या कहना बहुत कठिन है। क्योंकि हर जगह जहाँ भी फांसी को हथियार बनाया गया वहां समय अलग-अलग था। फांसी का अर्थ है कि मनुष्य के प्राणों का किसी...

Golden Deer

What is Golden Deer Story In Ramayana

Golden Deer Story in Ramayana          आज कल कुल तथाकथित  मुस्लिम और कुछ कम्युनिस्टो का कहना है कि श्री राम शिकारी थे । शिकार खलने जाते थे। मौलाना जगदीश अंसारी ने तो सारी हदें ही पार कर...

चोर और राजा

चोर और राजा का प्रजा पर दुराचार

चोर और राजा की प्रमाणिकता का फल           महाराष्ट्र Maharastra  के संत, महात्मा एवं कवि नामदेव महाराज Naamdev Maharaj  एक बार घूमते  हुए किसी गावँ में पहुँचे। रात्रि का समय था। सामने से एक चोर (Thief) आ...

हनुमान

हनुमान जी कौन थे ? क्या लंका में तैरकर गए ??

क्या हनुमान जी लंका में तैरकर गए थे ? पूर्ण ब्रहमचारी हनुमान जी के विषय में आज एक आम अवधारणा लोगों में बनी हुई है कि हनुमान जी समुन्द्र के उस पार लंका में माता सीता से मिलने उड़कर गए...