Tagged: chanakya niti shloka

चाणक्य नीति हिंदी

चाणक्य नीति हिंदी (Chanakya Niti Shloka) भाग-7, 121 से 149

चाणक्य नीति हिंदी अनुवाद में पढ़े चाणक्य नीति हिंदी आत्माऽपराधवृक्षस्य फ़लान्येतानि देहिनाम् । दारिद्यरोगदु:खानि बन्धनव्यसनानि च ।। दरिद्रता, रोग, दुःख और बंधन तथा व्यसन आदि- ये सब मनुष्य के अधर्म रूपी वृक्ष अर्थात् शरीर के फल है।(चाणक्य नीति हिंदी  श्लोक...

chanakya neeti

Chanakya Neeti Shloka(चाणक्य नीति श्लोक) भाग-6, 101 से 120

Chanakya Neeti (चाणक्य नीति ) :- हिंदी अनुवाद Chanakya Neeti अनित्यानि शरीराणि विभवो नैव शाश्वत: । नित्यं सन्निहितो मृत्यु: कर्त्तव्यो धर्मसंग्रह: ।। यह शरीर नाशवान है, धन संपत्ति भी चलायमान हैं, मृत्यु सैदव निकट रहती है, इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को...

Chanakya Niti Shloka

Chanakya Niti Shloka( चाणक्य नीति श्लोक) हिंदी अनुवाद :- भाग-5 :- 81 से 100

Chanakya Niti Shloka (चाणक्य नीति श्लोक):- हिंदी व्याख्या Chanakya Niti Shloka :- 81. हस्तीस्थूलतनु: स चाड़्कुशवश: किं हस्तिमात्रोड़्कुशो दीपे प्रज्वलिते प्रणश्यति तम: किं दीपमात्रं तम: । वज्रेणापि हता: पतन्ति गिरय: किं वज्रमात्रो गिरिस् तेजो यस्य विराजते स बलवान स्थूलेषु क:...

chanakya niti sloka

Chanakya Niti Sloka(चाणक्य नीति श्लोक) भाग-4; 61 से 80

Chanakya Niti Sloka  (चाणक्य नीति श्लोक):- हिंदी व्याख्या Chanakya Niti Sloka 61.  शुचिर्भूमिगतं तोयं शुद्धा नारी पतिव्रता । शुचि: क्षेमकरो राजा संतोषि ब्राह्मण: शुचि: ।। पृथ्वी के भीतर से निकलने वाला पानी पवित्र होता है। पतिव्रता नारी पवित्र होती है।...